बॉलीवुड की जानी मानी अभिनेत्री स्वरा भास्कर और राजनीति का है गहरा संबंध

बॉलीवुड की जानी-मानी अभिनेत्री और तनु वेड्स मनु से हिट हुईं स्वरा भास्कर ने लगातार बॉलीवुड में अलग-अलग किरदार निभाकर लोगों के मन जीते हैं लेकिन अपनी फिल्मों के साथ-साथ ही अब स्वरा भास्कर काफी कॉन्ट्रोवर्सी में भी नजर आने लगी हैं. शुरू से ही तीखी बयानबाजी की वजह से वह सुर्खियों में बनी रही हैं.

Bollywood Halchal Mar 04, 2020

बॉलीवुड की जानी-मानी अभिनेत्री और तनु वेड्स मनु से हिट हुईं स्वरा भास्कर ने लगातार बॉलीवुड में अलग-अलग किरदार निभाकर लोगों के मन जीते हैं लेकिन अपनी फिल्मों के साथ-साथ ही अब स्वरा भास्कर काफी कॉन्ट्रोवर्सी में भी नजर आने लगी हैं. शुरू से ही तीखी बयानबाजी की वजह से वह सुर्खियों में बनी रही हैं चाहे वह संजय लीला भंसाली के ऊपर बयान बाजी करना हो या वीरे दी वेडिंग जैसी फिल्म में एक दृश्य को लेकर  विवादों में रहना. साथ ही  कठुआ  जम्मू कश्मीर में  हुए  एक बच्ची के साथ  बलात्कार को  एक  पर्टिकुलर धर्म की ओर  इंगित करते हुए स्वरा भास्कर ने एक  फोटो  ट्विटर पर  अपलोड की  जिसके कारण भी  स्वरा भास्कर काफी विवादों में घिर गयीं थीं.  हाल ही में स्वरा भास्कर  जेएनयू के दंगल में कूद गयीं थीं. जेएनयू की छात्रा  रही स्वरा भास्कर काफी विवादित बयान दे रही हैं, वहीं उन्होंने सरकार द्वारा लागू किए गए एनआरसी, एनपीआर का खुलकर विरोध किया है और कई भड़काऊ ट्वीट और भाषण दिए हैं साथ ही में स्वरा भास्कर ने एनआरसी और एनपीआर को संविधान के धारा 14 और 15 का उल्लंघन बताया है  जो सन 1947 में बनी थी और साथ ही में CAA, NRC और NPR को लागू करना हिंदुत्व को दर्शाता है ऐसी बयानबाजी स्वरा भास्कर ने की और साथ ही उन्होंने कहा कि वह ऐसे हिंदुत्व राष्ट्र की निंदा करती हैं और सीएए, एनआरसी और एनपीआर को एंटी इंडिया बताती हैं. साथ ही में जेएनयू और जामिया में छात्रों द्वारा किए जा रहे प्रदर्शन को स्वरा भास्कर खुलकर समर्थन दे रही थीं. उनका कहना था कि छात्र ही हमारे देश के रियल हीरो हैं जब वह किसी प्रोटेस्ट को कर रहे हैं इसका मतलब यह है कि वह समाज के प्रति जागरूक हैं और वह खुलकर उन छात्रों के साथ हैं.

स्वरा भास्कर ने सीएए को हिंदुत्व की पहचान दी है साथ ही में स्वरा भास्कर ने NPR को दांत और पंजे बताया है.  CAA, NRC और NPR पर स्वरा भास्कर के भड़काऊ बयान के वजह से सुप्रीम कोर्ट ने उन पर आपत्तिजनक भाषण देने का आरोप मान्य कर लिया है.  बॉलीवुड  स्टार स्वरा भास्कर के खिलाफ परिवाद अर्जी दाखिल की गई थी न्यायाधीश ने अर्जी स्वीकार कर ली. परिवादी के बयान 18 मार्च को होंगे एमएम सप्तम न्यायालय में अर्जी देकर आरोप लगाया है कि सिनेमा स्टार स्वरा भास्कर बयानों के जरिए लोगों को केंद्र सरकार न्यायपालिका के प्रति भड़का रहीं हैं. अर्जी में अपील की गई है कि श्वरा भास्कर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने का आदेश जारी कर कार्यवाही कर न्याय दिलाया जाए. न्यायाधीश ने अर्जी स्वीकार कर परिवादी को पक्ष रखने का मौका दिया है. एक अखबार को इंटरव्यू देते समय स्वरा भास्कर ने साफ शब्दों में कहा कि उन्हें सरकार की हरकतों पर भरोसा नहीं है, उनका कहना था CAA, NRC और NPR इस समय देश के सबसे ज्वलंत मुद्दे हैं. स्वरा भास्कर का साफ कहना था कि वह सरकार और उसकी नीतियों से बिल्कुल मेल नहीं खाती हैं.


Find Us



बॉलीवुड हलचल

बॉलीवुड की चटपटी खबरों के साथ ही पढ़िये हर नयी फिल्म की सबसे सटीक समीक्षा। साथ ही फोटो और वीडियो गैलरी में देखिये बॉलीवुड की हर हलचल।


लेटेस्ट पोस्ट


L o a d i n g