सायरा बानो से शादी करने से पहले इस हिरोइन से प्यार करते थे ट्रेजडी किंग दिलीप कुमार

1966 में दिलीप कुमार ने किसी को बिना बताए सायरा बानो से शादी कर ली थी। उस समय दिलीप कुमार 44 के और सायरा 22 की थीं। शादी के पचास साल से भी ज़्यादा पूरे होने के बाद भी आज भी दोनों को एक-दूसरे से उतना ही प्यार है जितना पहले था।

Bollywood Halchal Dec 11, 2020

बॉलीवुड के ट्रेजडी किंग यानि दिलीप कुमार आज 98 साल के हो गए हैं। हर साल दिलीप कुमार के जन्मदिन पर उनकी पत्नी सायरा बानो उनके लिए पार्टी रखती हैं और बड़े जश्न के साथ उनका जन्मदिन मनाया जाता है। हालांकि, सायरा बानो ने मिड दे को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि इस साल दिलीप की  तबीयत खराब होने की वजह से और उनके दो भाइयों के इंतकाल के चलते कोई जश्न नहीं होगा। दिलीप और सायरा के प्यार के किस्से पूरी फिल्म इंडस्ट्री में मशहूर हैं। जहाँ आजकल छोटी-छोटी बातों पर लोगों की शादियाँ टूट रही हैं, ऐसे में दिलीप और सायरा सभी प्यार करने वालों के लिए एक मिसाल हैं। आइए जानते हैं दिलीप कुमार की जिंदगी के कुछ अनसुने किस्से - 

दिलीप कुमार का असली नाम युसुफ खान है। दिलीप कुमार का जन्म 11 दिसंबर 1922 को पेशावर में हुआ था। उन्होंने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत फिल्म ज्वार भाटा से की थी लेकिन फिल्म फ्लॉप रही। दिलीप कुमार की पहली सफल फिल्म जुगनू थी। दिलीप कुमार ने अपनी फिल्मों में ज्यादातर त्रासद भूमिकाएं निभाई थीं जिसकी वजह से उन्हें ट्रेजडी किंग कहा जाने लगा। बॉलीवुड में दिलीप कुमार का अहम योगदान रहा है। उन्होंने जोगन, बाबुल, हलचल, दीदार, शिकस्त, अमर, देवदास, नया दौर, आज़ाद, मधुमती और पैगाम जैसी यादगार फिल्मों में अभिनय किया था। 

एक्ट्रेस कामिनी कौशल थीं पहला प्यार 
दिलीप कुमार अपनी फिल्मों के अलावा अपनी लव लाइफ को लेकर भी खूब चर्चा में रहते थे। ज़्यादातर लोगों को लगता है कि दिलीप कुमार का पहला प्यार  मधुबाला थीं। लेकिन शायद बहुत कम लोग जानते हैं कि मधुबाला से भी पहले एक महिला थीं जिनसे दिलीप कुमार प्यार करते थे। वो महिला थीं एक्ट्रेस कामिनी कौशल। और नहीं उनका पहला प्यार एक्ट्रेस कामिनी कौशल थी। दोनों की मुलाकात फिल्म शहीद के सेट पर हुई थी। दोनों शादी भी करना चाहते थे लेकिन कामिनी पहले से शादीशुदा थीं जिसकी वजह से 3 साल के रिश्ते के बाद भी दोनों अलग हो गए।

मधुबाला के साथ था संबंध  
इसके बाद दिलीप कुमार की ज़िंदगी में मधुबाला ने एंट्री ली। 1951 में फिल्म तराना की शूटिंग के दौरान दिलीप की मुलाकात मधुबाला से हुई। इस प्रेम कहानी की खास बात यह थी कि दिलीप कुमार ने मधुबाला को नहीं बल्कि मधुबाला ने दिलीप कुमार को प्रपोज़ किया था। मधुबाला ने गुलाब के फूल के साथ एक चिट्ठी दिलीप को भिजवाई थी। इसमें लिखा था, 'अगर आप मुझसे मोहब्बत करते हैं तो ये गुलाब का फूल कबूल करें।' दिलीप कुमार ने चिट्ठी पढ़ी और मुस्कुराते हुए फूल कबूल कर लिया। दोनों एक-दूसरे से एक पल के लिए अलग नहीं रहना चाहते थे। दिलीप और मधुबाला के प्यार के चर्चे फिल्म इंडस्ट्री में चारों ओर फैल गए थे। लेकिन मधुबाला के पिता अताउल्ला खां इस रिश्ते के सख्त खिलाफ थे। मधुबाला के पिता उन्हें दिलीप से दूर रखने के लिए मधुबाला पर सख्त नजर रखने लगे। दिलीप और मधुबाला शादी करना चाहते थे। लेकिन दिलीप कुमार ने मधुबाला के सामने शर्त रखी थी कि शादी के बाद वे फिल्मों में काम नहीं करेंगी और ना ही अपने पिता से कोई रिश्ता रखेंगी। मधुबाला को यह शर्त मंजूर नहीं थी और कुछ समय बाद दोनों का रिश्ता खत्म हो गया। 

सायरा बानो से की शादी 
इसके बाद 1960 में एक फिल्म के सिलसिले में दिलीप की मुलाकात अपने से 20 साल छोटी सायरा बानो से हुई। सायरा ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि जब वो 12 साल की थीं तब से उनका सपना था कि उनकी शादी दिलीप कुमार से हो जाए। 1966 में दिलीप कुमार ने किसी को बिना बताए सायरा बानो से शादी कर ली थी। उस समय दिलीप कुमार 44 के और सायरा 22 की थीं। शादी के पचास साल से भी ज़्यादा पूरे होने के बाद भी आज भी दोनों को एक-दूसरे से उतना ही प्यार है जितना पहले था।


Find Us



बॉलीवुड हलचल

बॉलीवुड की चटपटी खबरों के साथ ही पढ़िये हर नयी फिल्म की सबसे सटीक समीक्षा। साथ ही फोटो और वीडियो गैलरी में देखिये बॉलीवुड की हर हलचल।


लेटेस्ट पोस्ट


L o a d i n g