एक दर्दनाक हादसे ने बदली एक्ट्रेस महिमा चौधरी की जिंदगी, चेहरे से निकले थे 67 कांच के टुकड़े

महिमा वो वाकया याद करके रो पड़ती हैं कि कैसे एक दुर्घटना ने उनके जीवन को पूरी तरह से बदल दिया है। अभिनेत्री महिमा चौधरी स्टारडम के शिखर पर थीं जब यह दुर्घटना उनके साथ हुई थी।

Bollywood Halchal Jun 10, 2020

बॉलीवुड अभिनेत्री महिमा चौधरी को पर्दे पर न दिखने पर कयास बाजियां तेज थी। काफी दिनों के बीत जाने के बाद महिमा ने साफ किया कि वो अभिनय से कैसे दूर हो गईं। जीवन की ऐसी कौन सी दुर्घटना हुई जिन्होंने उनके अभिनय को उनसे छीन लिया है। महिमा चौधरी ने बताया कि उनका चेहरा 1999 में एक कार दुर्घटना में बुरी तरह घायल हो गया था। महिमा वो वाकया याद करके रो पड़ती हैं कि कैसे एक दुर्घटना ने उनके जीवन को पूरी तरह से बदल दिया है। अभिनेत्री महिमा चौधरी स्टारडम के शिखर पर थीं जब यह  दुर्घटना उनके साथ हुई थी।  

महिमा चौधरी ने 1997 में शाहरुख खान के साथ सुभाष घई की "परदेस" से बॉलीवुड में डिब्यू किया था। पहली ही फिल्म से महिमा को काफी लोकप्रियता मिल गई थी। लेकिन कुछ सालों बाद अचानक महिमा लाइमलाइट से दूर हो गईं थीं। उनका बॉलीवुड से दूर होना ऐसा लगा कि जैसे वह किसी रहस्यमय तरीके से बॉलीवुड से गायब हो गईं।

इसके पीछे के कारण का खुलासा उन्होंने हाल ही में पिंकविला को दिए एक इंटरव्यू में खुद महिमा ने किया। उन्होंने बताया कि 1999 में जब वह अजय देवगन और काजोल के साथ अपनी फिल्म "दिल क्या करे" में काम कर रही थीं तभी बेंगलुरु में उनके साथ एक भयानक दुर्घटना हो गयीं थीं। एक ट्रक ने उनकी कार को टक्कर मारी और उनके चेहरे पर कांच का टूकड़े आ लगे। उन्हें ऐसा लगा जैसे अब वह बच नहीं सकतीं। उस समय किसी ने भी उन्हें अस्पताल पहुंचाने में मदद नहीं की। उन्होंने कहा स्पताल पहुंचने के बा  जब मेरी मां आईं, अजय देवगन आए और वे चर्चा करने लगे इस घटना के बारे में तब उन्होंने उठकर शीशे में अपना चेहरा देखा और डर गईं।

जब डाक्टरों ने उनकी सर्जरी की तो महिमा के चेहरे से 67 कांच के टुकड़े निकले। महिमा को उनकी सर्जरी के बाद ठीक होने में काफी समय लगा। उन्हें हर समय घर के अंदर रहना पड़ता था, धूप से बचना और यहाँ तक कि शीशे में अपना चेहरा देखने से भी परहेज़ करना पड़ता था। हालांकि उन्हें इस बात की चिंता थी कि कोई उन्हें अपनी फिल्मों में फिर से कास्ट भी करेगा भी या नहीं।

उस दौरान महिमा ने बताया कि वह उस समय कई फिल्मों में बहुत काम कर रहीं थी। वह नहीं चाहतीं थी कि लोग इस दुर्घटना के बारे में किसी को पता तले क्योंकि उस समय लोग सपोर्टिव नहीं थे। अगर कोई उस समय इस दुर्घटना के बारे में जानता तो जरूर कह देता ओह! इसका तो चेहरा ही खराब हो गया है। साथ में नकारात्मक स्वर से कहता कि चलो किसी और को फ़िल्म में साइन कर लेते हैं। बस इसलिए वह फिल्मों से दूर रहीं और लोगों से छिपती रहीं। 

लेकिन फिर उनके परिवार ने उनको संभाला और ताकत दिया। महिमा को फिर नीता लुल्ला द्वारा सनी देवल के साथ प्यार कोई खेलना के लिए एक सॉन्ग शूट करने के लिए प्रोत्साहित किया गया। यहां तक कि अक्षय कुमार ने भी उन्हें अपनी फ़िल्म "धड़कन" में एक विशेष भूमिका को शूट करने का मौका दिया। वह यह सब छुपा रहीं थी परंतु इसी डर के साथ उन्होंने शानदार पारी की शुरूआत की और वापसी बहादुरी से की महिमा इस नई जिंदगी के लिए अपने परिवार को वज़ह मानती हैं। महिमा अब सिगल-पेरेंट हैं उनकी एक बेटी हैं, जिसका नाम आर्याना है। 2006 में उनकी बॉबी मुखर्जी से शादी हुई और 2013 में दोनों का तलाक हो गया।


Find Us



बॉलीवुड हलचल

बॉलीवुड की चटपटी खबरों के साथ ही पढ़िये हर नयी फिल्म की सबसे सटीक समीक्षा। साथ ही फोटो और वीडियो गैलरी में देखिये बॉलीवुड की हर हलचल।


लेटेस्ट पोस्ट


L o a d i n g