छोटे से गांव से बॉलीवुड तक का सफर करने वाले नवाजुद्दीन सिद्दकी को क्यों बेचनी पड़ी थी दवाइयां?

फ़िल्मी जगत में अपना जलवा बिखेरने के बाद नवाजुद्दीन सिद्दीकी अपने पर्सनल लाइफ को लेकर खूब चर्चा में हैं। नवाजुद्दीन सिद्दीकी और उनकी पत्नी आलिया सिद्दीकी अपने 15 साल के रिश्ते के बाद एक दूसरे से अलग होने का फैसला किया है। उनकी पत्नी ने नवाज़ुद्दीन सिद्धकी पर टॉर्चर करने का आरोप लगाया है।

Bollywood Halchal May 27, 2020

नवाजुद्दीन  सिद्दीकी  हिंदी फिल्‍म जगत के जाने माने अभिनेता हैं। नवाज बॉलीवुड की कई फिल्मों में अपने शानदार अभिनय से सबका दिल जीतने में कामयाब रहे हैं। फ़िल्मी जगत में अपना जलवा बिखेरने के बाद नवाजुद्दीन सिद्दीकी अपने पर्सनल लाइफ को लेकर खूब चर्चा में हैं। नवाजुद्दीन सिद्दीकी और उनकी पत्नी आलिया सिद्दीकी अपने 15 साल के रिश्ते के बाद एक दूसरे से अलग होने का फैसला किया है। उनकी पत्नी ने नवाज़ुद्दीन सिद्धकी पर टॉर्चर करने का आरोप लगाया है और लीगल नोटिस भेजकर मेंटेनेंस और तलाक मांगा हैं। आइए जानते हैं नवाजुद्दीन की शुरुआती जीवन करिए और उनकी पर्सनल लाइफ के उतार-चढ़ाव के बारे में।

शुरुआती जीवन

नवाज़ुद्दीन का जन्म 19 मई 1974 को यूपी के मुज़फ्फरनगर के एक छोटे गाँव (बुढ़ाना) में हुआ था।  9 भाई-बहनों के बीच नवाज़ुद्दीन सबसे बड़े थे। उनका बचपन इसी गाँव में बीता और उन्होंने इंटरमीडिएट तक की पढ़ाई यहीं से की थी। नवाज़ुद्दीन शुरू से ही अपने गाँव से निकल कर बाहर जाना चाहते थे वजह यही थी कि वहां का माहौल पढ़ाई-लिखाई के लिहाज़ से बिल्कुल सही नहीं था।
 
नवाज़ुद्दीन ने इंटरमीडिएट तक की पढ़ाई गाँव से की थी। उसके बाद वो हरिद्वार चले गए उनका मानना था गाँव मे पढ़ाई का माहौल ठीक नहीं है। हरिद्वार में उन्होंने गुरुकुल कंगरी विश्वविद्यालया से केमिस्ट्री में बीएससी की पढ़ाई पूरी की। इसके बाद वो वड़ोदरा, गुजरात में एक कम्पनी में बतौर केमिस्ट काम करने लगे। इस काम में उनका मन नहीं लगता था, लेकिन कुछ न कुछ करना था इसलिए नौकरी कर रहे थे।

फ़िल्मों की ओर रूझान

उनको फ़िल्मों में रूचि तब आई जब उनका एक दोस्त उन्हें एक फ़िल्म दिखाने के लिए ले गया। फ़िल्म देखने के बाद नवाजुद्दीन बहुत खुश हुएइसके बाद उन्हें एहसास हुआ कि शायद वो इसी काम के लिए बने हैं। उन्होंने अपने दोस्त से सलाह ली इसके बारे में तो उनके दोस्त ने उन्हें समझाया कि एक्टर बनना है, तो एक्टिंग सीखनी होगी। इसके बाद उन्होने ‘नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा’ में दाखिला ले लिया और 1996 में वहां से ग्रेजुएट होकर निकले।

संघर्ष का दौर

दिल्ली में नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने साक्षी थिएटर ग्रुप के साथ काम किया, जहां उन्हें मनोज वाजपेयी और सौरभ शुक्ला जैसें कलाकारों के साथ काम करने का मौका मिला। यहीं से उनके संघर्ष की कहानी शुरू हुई। इसके बाद वह मुंबई चले गए और वहां उनके रिजेक्शन का दौर लगातार जारी रहा। उनके साथ गए उनके दोस्त अपने घर लौट गए। लेकिन नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने हार नहीं मानी संघर्ष के इस दौर में उन्हें अपनी मां की कही हुई बातें याद थी कि 12 साल में तो घूरे के दिन भी बदल जाते हैं बेटा तू तो इन्सान हैं। 
 
संघर्ष के दौरान वह खाने के लिए भी परेशान हो गए थे अपने मित्र और दोस्तों के घर जाकर खाना खाते थे। जहाँ भी फिल्म की शूटिंग होती थी, वहां पहुंच जाते थे। हमेशा काम की तलाश में रहते थे। जब कोई उनसे पूछता था कि यहाँ क्या करने आये हो तो नवाज़ कहते थे, मै एक्टर हूँ, उन्हें जवाब में यही मिलता था की दिखते तो नहीं हो। कुछ लोग कहते हैं दिखने में अच्छे ना होने के वज़ह से थे उन्हें यह हमेशा सुनने को मिलता था।

सफलता

कहा जाता है, जो लोग अपना सफ़र की शुरूआत ज़मीन से करते हैं, उन्हें आसमान छूने में वक़्त नहीं लगता ये कहावत नवाज के जीवन से खूब मेल खाती है। तभी 1999 में आयी "शूल" फिल्म में वेटर और "सरफरोश" में मुखबिर का किरदार अदा करने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी ऐसे स्टार बन चुके हैं, जिन्हें एक नहीं चार फिल्मों के लिए एक साथ राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। उनको 2012 की तलाश, गैंग्स ऑफ वासेपुर-1, 2 और कहानी के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा जा चुका है।

अवार्ड्स

नवाजुद्दीन सिद्दीकी को राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार, आईआईएफए अवार्डस, स्‍क्रीन अवार्ड्स, जी सिने अवार्डस, रेनॉल्‍ट स्‍टार गिल्‍ट अवार्डस और एशिया पैशिफिक स्‍क्रीन अवार्ड्स से सम्मानित किया जा चुका है।

नवाजुद्दीन सिद्दीकी की लव स्टोरी

अपने एक इंटरव्यू में नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बताया कि आलिया सिद्दीकी जिनका वास्त्विक नाम अंजना किशोर पांडेय हैं। उनके साथ रिलेशनशिप में थे। लेकिन अंजना बहुत गुस्सा करती थीं, इसी गुस्से की वजह से उन दोनों का ब्रेकअप भी हो गया था। उसके बाद नवाजुद्दीन सिद्दीकी की मां ने उनकी शादी  शीबा से करा दी, लेकिन उनकी शादी ज्यादा दिन तक नहीं चली और दोनों का तलाक हो गया। इसके बाद नवाजुद्दीन सिद्दीकी और अंजना एक दूसरे से मिले और दोनों ने शादी करने का फैसला किया। अब इन दोनों के दो बच्चे भी हैं।

दोनों के रिश्ते क्यों टूट रहे?

सूत्रों के अनुसार नवाजुद्दीन सिद्दीकी की आई आत्मकथा में उन्होनें अपने विवाहित संबंधों का जिक्र खुल कर दिया है जो आलिया सिद्दीकी को पसंद नहीं आया और इसी वजह से दोनों के रिश्ते बिगड़ते चले गए।

तलाक की वजह

आलिया सिद्दीकी तलाक की वजह नवाजुद्दीन सिद्दीकी और उनके परिवार के शारीरिक और मानसिक टॉर्चर को बता रहीं हैं। उन्होंने यह भी कहा इस रिश्ते में उन्होंने अपना आत्म सम्मान को पूरी तरह खो चुकी हैं। उनका कहना है कि नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने उन पर कभी हाथ तो नहीं उठाया लेकिन उनका चिल्लाना कभी-कभी और सहनशीलता से बाहर हो जाता है। 

आलिया का मानना है कि कुछ लोग फेम नहीं झेल पाते और नवाजुद्दीन सिद्दीकी उनमें से एक हैं, अगर आप अच्छे इंसान नहीं हैं तो आपके अच्छे ऐक्टर होने का कोई फायदा नहीं हैं। वह कहती है कि मेरे बच्चों को तो याद भी नहीं है उनके पिता उनसे आख़िरी बार कब मिलने आए। उन्होंने तलाक की नोटिस में अपने बच्चों की कस्टडी की मांग की है और मेंटेनेन्स भी मांगा है। अभी नवाजुद्दीन सिद्दीकी अपने परिवार के साथ उत्तरप्रदेश के गांव बुढाना में हैं और उनकी तरफ से अब तक इस मामले से जुड़ी किसी भी प्रकार की प्रतिक्रिया नही आयी है।


Find Us



बॉलीवुड हलचल

बॉलीवुड की चटपटी खबरों के साथ ही पढ़िये हर नयी फिल्म की सबसे सटीक समीक्षा। साथ ही फोटो और वीडियो गैलरी में देखिये बॉलीवुड की हर हलचल।


लेटेस्ट पोस्ट


L o a d i n g