जानिए उन एक्टर्स के बारे में जो फिल्मों में भी कुछ खास न कर सके साथ में अपना सफल टीवी करियर भी खो बैठे

हम आपको कुछ ऐसे एक्टर्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने फिल्मों के चक्कर में अपने सफल टीवी करियर को भी छोड़ दिया, जबकि उनमें से कुछ ने तो अपनी किस्मत आजमाने के लिए ऐसा किया लेकिन इंडस्ट्री में अपनी जगह नहीं बना पाए।

Bollywood Halchal Jun 09, 2020

जो भी एक्टिंग का सपना देखते हैं और करते हैं, उनके लिए बॉलीवुड एक खास जगह है। आप छोटे पर्दे पर कितने भी लोकप्रिय क्यों न हों, बड़े पर्दे पर बड़ा बनने के लिए कुछ हटके करना पड़ता है। शाहरुख खान और विद्या बालन उन कुछ चंद नामों में से हैं, जिन्होंने टीवी से अपना करियर स्टार्ट किया और आगे चलकर बॉलीवुड के मशहूर सुपरस्टार बने।
 
ऐसे ही कुछ इन लोकप्रिय टीवी अभिनेताओं ने किया पर असफल रहे। आज हम आपको कुछ ऐसे एक्टर्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने फिल्मों के चक्कर में अपने सफल टीवी करियर को भी छोड़ दिया, जबकि उनमें से कुछ ने तो अपनी किस्मत आजमाने के लिए ऐसा किया लेकिन इंडस्ट्री में अपनी जगह नहीं बना पाए।

1. अमर उपाध्याय
हमने पहली बार उन्हें 20 के दशक में साहिल दीवान के अजीब आदमी के रूप में 'देख भाई डेख' में देखा था। वो शो में शेखर सुमन के चरित्र के भतीजे थे। लेकिन उन्हें टीवी में अपना बड़ा ब्रेक 'क्यूंकी सास भी कभी बहू थी' से मिला। मिहिर, उनका चरित्र जल्द ही आदर्श पुत्र और भारत में एक घरेलू नाम बन गया। टेलीविजन में अपनी सफलता के बाद उन्होंने अदिति गोवित्रीकर के साथ धुंध- द फॉग (2003) के साथ फिल्मों में काम किया और जे पी दत्ता की युद्ध फिल्म, LOC कारगिल (2003) में भी दिखाई दिए। दुख की बात है कि उनका फिल्मी करियर उम्मीद के मुताबिक नहीं चला और साथ में टीवी करियर भी चला गया।

2. राजीव खंडेलवाल
उन्होंने टीवी सीरियल 'कहीं तो होगा' से अपनी शुरुआत की और तुरंत सफल हो गए। उन्होंने कुछ अन्य शो किए और 'लेफ्ट राइट लेफ्ट' में लीड में भी रहे। लेकिन उन्होंने उस धारावाहिक को छोड़ दिया और उनकी जगह गौरव चोपड़ा ने ले ली, क्योंकि वह बॉलीवुड में काम करना चाहते थे। उनकी पहली फिल्म 'आमिर' 2008 में आई थी, हालांकि उनके अभिनय की सराहना की गई थी लेकिन फिल्म बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप रही। उन्होंने उसके बाद कई फिल्में की लेकिन इंडस्ट्री में अपनी जगह नहीं बना पाए।

3. गुरमीत चौधरी
गुरमीत ने भारतीय टीवी पर रामायण (2008 टीवी श्रृंखला) में भगवान राम की भूमिका निभाकर प्रसिद्धि पाई। उसके बाद उन्होंने कई रियलिटी शो जैसे पति पत्नी और वो, झलक दिखला जा और नच बलिए में भाग लिया। वो, गीत हुई सबसे पराई में भी प्रमुख भूमिका में थे। उन्होंने हाल ही में 2015 में फिल्म 'खामोशियां' में भी अभिनय किया, उनकी यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर औसत से नीचे दर्ज की गई और यहां पर भी उन्हें असफलता ही हासिल हुई।

4. जय भानुशाली
उन्हें स्टार प्लस पर बालाजी की "कयामत" में नीव की भूमिका निभाने के लिए जाना जाता हैं। उन्होंने 2013 में 'प्लेटफॉर्म नंबर 6' से बॉलीवुड में अपनी शुरुआत की, उसके बाद हेट स्टोरी 2 और एक पहेली लीला। लेकिन कोई भी फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कमाल नहीं दिखा पाई। उन्हें आखिरी बार खतरों के खिलाड़ी के सीजन 7 में देखा गया था।

5. करण सिंह ग्रोवर
करण सिंह ग्रोवर ने बालाजी टेलीफिमल्स की 'किन्नी मस्त है जिंदगी' से डेब्यू किया लेकिन अपनी 'कसौटी जिंदगी की' के साथ फेमस हुए। 'दिल मिल गये' में डॉ. अरमान मलिक की भूमिका के साथ टीवी पर सबसे अधिक लोकप्रिय चेहरा बन गए। लेकिन फिर उन्होंने बॉलीवुड में काम किया और वहां अपनी किस्मत आजमाई। उन्होंने अब तक 4 फ़िल्में की हैं, जिनमें से 2 पिछले साल ही आई थीं, लेकिन अभी तक वह बॉलीवुड में अपने पैर नहीं जमा पाए हैं।

6. श्रुति सेठ
श्रुति सेठ ने टीवी पर 'शरारात' में सबसे प्यारी किशोर चुड़ैल जिया के रूप में डेब्यू किया। वह काफी लोकप्रिय थीं और इसी तरह उन्हें बॉलीवुड के लिए भी मौका मिला। उन्होंने वहां अपनी किस्मत आजमाई लेकिन कभी भी मुख्य भूमिका निभाने का मौका नहीं मिला। वह केवल फिल्मों में छोटी भूमिकाएं निभाती नजर आई और दुर्भाग्य से दर्शकों पर प्रभाव बनाने में असफल रही।

Find Us



बॉलीवुड हलचल

बॉलीवुड की चटपटी खबरों के साथ ही पढ़िये हर नयी फिल्म की सबसे सटीक समीक्षा। साथ ही फोटो और वीडियो गैलरी में देखिये बॉलीवुड की हर हलचल।


लेटेस्ट पोस्ट


L o a d i n g