साराभाई vs साराभाई सीरियल के स्टारकास्ट के व्यक्तिगत जीवन से जुड़ी रोचक जानकारियां

आज हम आपको कुछ पुराने जमाने के टीवी के द्वारा अपने किरदारों की छवि को अमर कर देने वाले अभिनेताओं के व्यक्तिगत जीवन की झलकियां आपके सामने पेश करते हैं, जिसमें सबसे पहले 'साराभाई vs साराभाई' सीरियल की पूरी स्टारकास्ट के जीवन से जुड़ी जानकारियां देंगे।

Bollywood Halchal May 19, 2020

मनोरंजन की दुनिया में टेलीविजन के आगमन के साथ ही कुछ लोग जमीन पर रहकर भी सितारे बन गए। पुराने जमाने का टीवी और टीवी सीरियल के किरदार दोनों ही अद्भुत हैं। आज भले ही मनोरंजन जगत अत्याधुनिक तरीकों से लैस हो चुका है, जहां मनोरंजन के लाखों तरीकों की भरमार है। लेकिन उतनी ही कदर पुराने किरदारों की आज भी है, तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे ही पुराने जमाने के टीवी के द्वारा अपने किरदारों की छवि को अमर कर देने वाले अभिनेताओं के व्यक्तिगत जीवन की झलकियां आपके सामने पेश करते हैं, जिसमें सबसे पहले 'साराभाई vs साराभाई' सीरियल की पूरी स्टारकास्ट के जीवन से जुड़ी जानकारियां देंगे।
 
सतीश शाह
25 जून 1951 को उस समय के मुंबई महाराष्ट्र राज्य में सतीश शाह का जन्म हुआ। इनका पूरा नाम सतीश रविलाल शाह है। 70  के आखरी दशक से करियर की शुरुआत करने वाले सतीश 90 और 2000 तक के दशकों में भी लगातार फिल्मों में नजर आए। सतीश केवल हिंदी सिनेमा ही नहीं मराठी फिल्मों में भी अभिनय करते हुए देखे गए। साल 2004 में 'साराभाई वर्सेस साराभाई' सीरियल में इंद्रवदन साराभाई का किरदार करने के लिए इन्हें काफी सराहना मिली। 2014 में हमशक्ल फिल्म में भी नजर आए। पारिवारिक जीवन में इनकी गर्लफ्रेंड मधु शाह इनकी धर्मपत्नी भी बनीं, उनकी कोई संतान नहीं है।  हालांकि सतीश के भाई नटवर और एक बहन माधुरी हैं। सतीश 70(2020 में) साल के हो चुके हैं। अपने पूरे करियर में सतीश ने हर तरह के रोल किए। लेकिन ज्यादातर इन्हें कॉमिक अंदाज में पर्दे पर देखा गया। सतीश का काम फिल्मों और टीवी दोनों में एक अलग पहचान पेश करता है। 250 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय कला का प्रदर्शन सतीश ने किया है।
 
राजेश कुमार
राजेश कुमार एक बेहतरीन टेलीविजन और फिल्म अभिनेता हैं, जिनका जन्म 20 जनवरी 1975 को बिहार के पटना में हुआ शुरुआती शिक्षा पटना से लेने के बाद राजेश कुमार ने हिंदू कॉलेज, दिल्ली से स्नातक डिग्री लेने के उपरांत मुंबई से पत्रकारिता का कोर्स भी किया। इनके अभिनय की यादें फिल्मों से ज्यादा टेलीविजन के सीरियल से जुड़ी हुई हैं। राजेश ने 'साराभाई वर्सेस साराभाई' में रोसेस साराभाई का किरदार जीवंत किया है। जिसके लिए उन्हें जाना भी जाता है। इसके अलावा राजेश कुमार के द्वारा किए गए कुछ उम्दा सीरियलों की लिस्ट में नीली छतरी वाले, बा बहू और बेबी, चिंटू चिकारा जैसे नाम शामिल हैं। राजेश ने 2001 में 'देश में निकला होगा चांद' सीरियल से अपना डेब्यू किया उनकी पत्नी का नाम माधवी सिंह है राजेश अभी 45(2020 में) साल के हैं। कुछ ही समय पहले राजेश से जुड़ी खबर मीडिया के माध्यम से सामने आई जिसमें पता चला कि राजेश ने अपने गृहग्राम में खेती करते हुए अपने गांव को स्मार्ट बनाने की ओर कदम बढ़ाया है। जिसके लिए उन्होंने शहर छोड़ दिया है।
 
सुमित राघवन
मुंबई में 22 अप्रैल 1971 को जन्मे सुमित राघवन एक फेमस टेलीविजन और फिल्म अभिनेता हैं। सुमित ने कई टीवी सीरियलों में काम किया जो काफी हिट भी रहे जिनमें साराभाई वर्सेस साराभाई, सजन रे झूठ मत बोलो, बड़ी दूर से आए हैं, हद कर दी, जैसे सीरियलों के नाम शामिल हैं। सुमित ने महाभारत में भी सुदामा के रूप में एक अहम भूमिका निभाई थी। सुमित ने प्रारंभिक शिक्षा मुंबई के चेंबूर कर्नाटक हाई स्कूल में ही की इसके बाद डीजी रूपरेल कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंस मुंबई से स्नातक की डिग्री हासिल की। सुमित की धर्मपत्नी का नाम चिन्मई सुर्वे हैं, जो खुद भी अभिनेत्री हैं। सुमित की बेटी का नाम 'नीरज सुमित' और बेटी का नाम 'दीया सुमित' है। सुमित से जुड़ी ख़ास बात ये है कि सुमित शाकाहारी भोजन करते हैं। सुमित अभी 49 (2020 में) साल के हो चुके हैं, लेकिन इनके अभिनय में दर्शकों की रुचि हमेशा से रही है। सुमित ने हिंदी के अलावा मराठी सीरियल्स में भी लगातार कई वर्षों तक काम किया है। 
 
गिरीश सहदेव
गिरीश सहदेव एक ऐसा नाम है जो टीवी जगत और बॉलीवुड सीरियल और फिल्मों में अहम भूमिकाओं में नजर आया है। गिरीश ने साराभाई वर्सेस साराभाई में भी काम किया। गिरीश एक ऐसे अभिनेता हैं, जिन्होंने कई फिल्मों में मुख्यधारा की भूमिकाओं को निभाया है। साल 2013 में आई फिल्म रामलीला, सलमान खान की फिल्म दबंग 2 और सत्याग्रह जैसी बड़े बैनर तले बनी फिल्मों में गिरीश ने अपने अभिनय की जादूगरी बिखेरी है। गिरीश को सबसे ज्यादा लोकप्रियता साल 2010 में आई खिचड़ी सीरियल से मिली। गिरीश ने अपना करियर बतौर अभिनेता 1998 में शुरू किया था। गिरीश दिल्ली के रहने वाले हैं जिनका जन्म 6 सितंबर 1976 को हुआ था।
 
तरला जोशी
सन 2004 में आए साराभाई वर्सेस साराभाई टेलीविजन सीरियल में तरला जोशी के द्वारा निभाई गई 'बा' भूमिका को काफी सराहना मिली। इन्होंने अपने करियर के दौरान कई मशहूर सीरियल्स में काम किया जो दर्शकों के लिए अभी भी यादगार बने हुए हैं, जैसे 'एक हजारों में मेरी बहना है' 'बंदिनी' आदि। तरला ने अपना करियर 1969 के दशक से शुरू किया था। तरला को अपने अभिनय से दर्शकों से काफी सराहना मिली। 
 
रत्ना पाठक
रत्ना पाठक 18 मार्च 1963 को मुंबई में जन्मी थीं पेशे से एक अभिनेत्री हैं जिन्होंने कई टीवी कार्यक्रमों और हिट फिल्मों में अपने अभिनय का लोहा मनवाया है। जाने तू या जाने ना, खूबसूरत, पहेली और निल बटे सन्नाटा, कपूर एंड संस जैसी फिल्मों में काम किया है। रत्ना पाठक हिंदी सिनेमा के मशहूर अभिनेता नसीरुद्दीन शाह से साल 1982 में विवाह के बंधन में बंध गईं। रत्ना की बहन सुप्रिया पाठक भी अभिनेत्री हैं। रत्ना के तीन बच्चे हैं, जिसमें अभिनेता विवान शाह जो फराह खान निर्देशित फिल्म हैप्पी न्यू ईयर में नजर भी आ चुके हैं उनके बेटे हैं।
 
घनश्याम नायक
साराभाई वर्सेस साराभाई में विट्ठल काका का किरदार निभाने वाले घनश्याम नायक मैं 1960 नई फिल्म मासूम से अपने करियर की शुरुआत की थी वही इनका टीवी डेब्यू सन 1994 में हुआ। घनश्याम नायक की पत्नी का नाम निर्मला देवी नायक है जिन से इन्हें एक बेटा विकास नायक और दो बेटियां भावना नायक और तेजल नायक हैं। घनश्याम 50 साल से अधिक बतौर सहायक अभिनेता कई हिंदी और गुजराती फिल्मों और सीरियल्स में नजर आते रहे हैं। तारक मेहता का उल्टा चश्मा में नट्टू काका का रोल घनश्याम नायक ही निभा रहे हैं। घनश्याम नायक को कई नामचीन कलाकारों के साथ काम करने का मौका मिला है। इसमें सलमान खान, अमिताभ बच्चन से लेकर कई बड़े अभिनेता शामिल हैं।
 
देवेन भोजानी
देवेन भोजनी एक भारती अभिनेता और निर्देशक के साथ-साथ गुजराती नाटकों के लिए थिएटर करने वाले कलाकारों के रूप में मशहूर हैं। 1980 के दशक में आए 'मालगुडी डेज' जैसे मशहूर कार्यक्रम से देवेन ने अपना टीवी डेब्यू किया। देवेंद्र का जन्म 25 नवंबर 1969 को मुंबई, महाराष्ट्र में हुआ था। देवेंद्र मुंबई में शिक्षा हासिल करने के साथ-साथ लॉस एंजिल्स और कैलिफोर्निया में भी पढ़ाई की है। साराभाई वर्सेस साराभाई सीरियल में दुष्यंत पेंटर का किरदार देवेन ने ही निभाया था।
 
रीता भादुड़ी
रीता एक मशहूर बॉलीवुड और टेलीविजन अभिनेत्री हैं। दिन में 70 के दशक से सहायक भूमिकाओं के साथ बॉलीवुड फिल्मों के द्वारा अपने अपने करियर की शुरुआत की। मूलत: लखनऊ की रहने वाली रिता भादुड़ी ने फिल्म एंड टेलीविज़न इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया से एफटीआईआई का कोर्स किया। इसके बाद सीधे अभिनय जगत में प्रवेश कर गईं। साराभाई वर्सेस साराभाई में रिता भादुरी ने इला बहन का किरदार निभाया था। 4 नवंबर 1955 को लखनऊ में जन्मी रीता ने हिंदी सिनेमा और टेलीविजन मैं अपने किरदारों को जीवंत कर सुजय अस्पताल विले पार्ले मुंबई में 62 वर्ष की उम्र में 17 जुलाई 2018 को इस दुनिया को अलविदा कह गईं।
 
मंदिरा बेदी
मंदिरा बेदी एक भारतीय अभिनेत्री हैं, जिन्होंने राष्ट्रीय चैनल में टीवी प्रस्तोता के रूप में भी काम किया है। क्रिकेट विश्व कप 2003 और 2007 में इन्होंने एंकर का रोल भी निभाया है। मशहूर टीवी कार्यक्रमों क्योंकि 'सास भी कभी बहू थी' जैसे धारावाहिकों में भी नजर आई हैं। मंदिरा ने 'साराभाई वर्सेस साराभाई' में कुकी शर्मा नाम के किरदार का रोल प्ले किया है। मंदिरा का जन्म पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में हुआ। मंदिरा के पिता का नाम वीरेंद्र सिंह बेदी और माता का नाम गीता बेदी है। मंदिरा ने मुंबई में ही अपने प्रारंभिक व उच्च शिक्षा पूरी की। मंदिरा ने स्नातकोत्तर की डिग्री हासिल कर रखी है। मंदिरा अभी 48 (2020 में) साल की हैं।
 
रुपाली गांगुली
साराभाई vs साराभाई में मोनिशा का किरदार निभाकर सबका दिल जीतने वाली रुपाली गांगुली का जन्म 5 अप्रैल 1977 को मुंबई में हुआ था। 2013 में रुपाली अश्विन के वर्मा के साथ शादी के बंधन में बंध गयीं। रुपाली एक बेटे की माँ भी हैं और अभी फिरहाल स्टार प्लस पर आने वाले सीरियल अनुपमा में काम कर रहीं हैं जिसका श्रेय वो अपने पति को देती हैं। उन्होंने बताया कि उनके पति हमेशा आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। 

Find Us



बॉलीवुड हलचल

बॉलीवुड की चटपटी खबरों के साथ ही पढ़िये हर नयी फिल्म की सबसे सटीक समीक्षा। साथ ही फोटो और वीडियो गैलरी में देखिये बॉलीवुड की हर हलचल।


लेटेस्ट पोस्ट


L o a d i n g